निर्भया ने आखिरी समय अपनी माँ से कहीं थी ये बातें, जिन्हें पढ़ कर आपकी भी रूह कांप उठेगी


निर्भया ने आखिरी समय अपनी माँ से कहीं थी ये बातें, जिन्हें पढ़ कर आपकी भी रूह कांप उठेगी

नई दिल्ली: भारत में कानून व्यवस्था दिनों दिन मज़बूत हो रही है. ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि, सरकार का कहना है. भारतीय सरकार के अनुसार देश में अब सख्त से सख्त कानून बनाये जा रहे है, जिनसे आम इंसान को राहत मिलेगी. लेकिन, भारत सरकार ये बात भूल रही है कि भले ही वह कितने भी कठोर नियम क्यूँ ना बना लें, लेकिन, फिर भी हमारे भारत देश की बहु बेटियां सुरक्षित नहीं हैं. घर से बहर निकलते ही हर लड़की को बहुत सारी गन्दी नजरों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में आये दिन अख़बारों में लडकियों के साथ हुई ज्यादती को लेकर कईं खबरें आती रहती हैं.

nirbhaya-kand-19-12-17-5-1513754904

अभी पिछले कुछ समय पहले ही निर्भया केस ने पूरे भारत को सन्न कर दिया था. निर्भया के साथ हुए गैंगरेप ने सबकी आत्मा को हिला कर रख दिया था. आज भी जब निर्भया का हशर सोचा जाए तो आँखों में आंसू रुकने का नाम नहीं लेते. केवल निर्भया ही नहीं बल्कि, निर्भया जैसी हजारों लडकियाँ हर साल भारत में बलात्कार का शिकार हो रही हैं. ऐसे में आज हम आपको निर्भया के उन आख़िरी बोलों से रूबरू करवाने जा रहे हैं, जो उसने मरने से पहले अपनी माँ को कहा था. जानकारी के अनुसार निर्भया ने अपना दर्द माँ को कागज़ पर लिख कर ब्यान किया गया था. आप भी निर्भय के आखिरी लफ्जों को पढ़ कर रो देंगे.

nirbhaya-kand-19-12-17-6-1513754927

दरअसल, निर्भया ने जाने से पहले अपनी माँ से कुछ ऐसी बातें कहीं, जिसको पढ़ कर आपकी रूह भी कांप उठेगी और आपको अंदर तक हिला कर रख देगी. जानकारी के अनुसार निर्भया देहरादून के एक इंस्टिट्यूट से अपनी पढाई पूरी कर रही थी. आज भी उसकी सहेलियां उसको याद करके रो डदेती हैं. निर्भया जैसा हाल कभी किसी का ना हो हर कोई यही दुआ करता है.

nirbhayahatyakand-13-05-17-3-1513754933

यहाँ तक कि निर्भया का इलाज करने वाले डॉक्टर भी उसकी हालत को देख कर डर गये थे. क्यूंकि, उन दरिंदो ने निर्भया के जिस्म के हर हिस्से को जानवरों की तरह नोच रखा था. उस हादसे के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में न‌िर्भया जिंदगी की जंग लड़ रही थी. वह इस हालत में नहीं थी कि किसी को बोल कर दर्द बता पाए इसीलिए उसने सारा दर्द कागज़ पर लिख कर वो कागज़ अपनी माँ को थमा दिया.

nirbhaya-kand-19-12-17-3-1513754953

निर्भया के आखिरी खत में उसने लिखा था कि “माँ मुझे बहुत दर्द हो रहा है. मुझसे ये दर्द सहा नही जा रहा और माँ पापा मुझे माफ़ कर देना. आप चाहते थे कि मैं फ‌िज‌ियोथेरेप‌िस्ट बन जाऊ. लेकिन, आज मैं इतने दर्द में हूँ कि मुझे खुद एक फ‌िज‌ियोथेरेप‌िस्ट की जरूरत है. आज मुझे अपना ही हाल बर्दाश्त नहीं हो पा रहा है माँ”

इसके इलावा अंत में निर्भया ने लिखा कि “माँ मुझे इतना दर्द हो रहा है की मैं ठीक से सांस भी नहीं ले पा रही हूँ. माँ मैं जब भी अपनी आँखें बंद करके सोने की कोशिश करती हूँ तो मेरी आँखों के सामने वो दरिन्दे आ जाते हैं और बुरी तरह मेरा जिस्म नोचते हैं. माँ मैं ना तो ठीक से जी पा रही हूँ ना ही मर पा रही हूँ”. निर्भया का ये खत पढ़ कर उसकी माँ का कलेजा भर आया और वह देर तक रोती रही.

देखें विडियो-


Thank You For Your Reading. Please give us a feedback

Related Posts

लव मैरिज के बाद करवाया 5 बार पत्नी का गर्भपात, अब आई सामने पति की हैरान कर देने वाली सच्चाई

लव मैरिज के बाद करवाया 5 बार पत्नी का गर्भपात,…

19 Dec 2017 02:37 PM
दरअसल, 7 साल की इस शादी में युवती का पति अब तक 5 बार…
जज बनते ही लड़की ने कहा तू मेरे काबिल नही, लड़के के दिल पे लगी बात और वो भी बन गया जज उसके बाद?

जज बनते ही लड़की ने कहा तू मेरे काबिल नही, लड़के…

20 Dec 2017 02:22 PM
आज हम आपको ऐसी ही कहानी से रूबरूं कराने जा रहे हैं…
जिस्मफरोशी करते रंगे हाथ पकड़ी गईं बॉलीवुड की 2 हीरोइनें, नाम जानकर नहीं होगा भरोसा

जिस्मफरोशी करते रंगे हाथ पकड़ी गईं बॉलीवुड की…

20 Dec 2017 02:27 PM
टीवी और फिल्म की ग्लैमर भरी दुनिया की असलियत एक बार…